क्या है 'कांग्रेस मुक्त भारत' Vs 'भाजपा मुक्त दक्षिण' की हकीकत? आज की तारीख में किसके कितने MP-MLA

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं। इसमें कांग्रेस पार्टी ने जबरदस्त जीत हासिल की है। पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने एक बयान के जरिए बीजेपी पर तंज कसा है और कहा- अब सच्चाई यह है कि 'भाजपा मुक्त दक्षिण भारत' हो गया है। आज की तारीख में साउथ और नॉर्थ इंडिया में कांग्रेस-बीजेपी के कितने सांसद और विधायक हैं?

क्या है 'कांग्रेस मुक्त भारत' Vs 'भाजपा मुक्त दक्षिण' की हकीकत? आज की तारीख में किसके कितने MP-MLA
कांग्रेस मुक्त भारत' Vs 'भाजपा मुक्त दक्षिण

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने रिकॉर्ड जीत हासिल की है। पार्टी को जबरदस्त बहुमत मिलने की वजह से नेता से लेकर कार्यकर्ता तक गदगद हैं। इस बीच, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने एक बयान के जरिए बीजेपी पर तंज कसा है और कहा- 'बीजेपी हमें ताना मारती थी कि हम 'कांग्रेस मुक्त भारत' बनाएंगे। अब सच्चाई यह है कि 'भाजपा मुक्त दक्षिण भारत' हो गया है। कांग्रेस के इस बयान की हकीकत क्या है, हम आपको बताएंगे।


बता दें कि कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत मिला है। राज्य की 224 सदस्यीय विधानसभा सीटों में कांग्रेस को 136 सीटों पर जीत मिली है। जबकि बीजेपी को करारी हार मिली है। राज्य में बीजेपी को सत्ता गंवानी पड़ी और कुल 65 सीटों पर जीत मिल सकी। जेडीएस ने 19 और अन्य ने 4 सीटें जीती हैं। कांग्रेस की सत्ता में वापसी पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बयान दिया और कहा- यह एक बड़ी जीत है। उन्होंने कहा कि इससे पूरे देश में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है। खड़गे ने कहा, 'बीजेपी हमें ताना मारती थी कि हम 'कांग्रेस मुक्त भारत' बनाएंगे। अब सच्चाई यह है कि 'भाजपा मुक्त दक्षिण भारत' हो गया है। अहंकारी बयान अब काम नहीं करेंगे और एक शासक को लोगों की पीड़ा को समझनी चाहिए।'

क्या खड़गे का दावा सही है? 

दरअसल, दक्षिण भारत में पांच प्रमुख राज्य हैं। इनमें कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, केरल और तेलगांना का नाम शामिल हैं। कर्नाटक को दक्षिण का प्रवेश द्वार माना जाता है। लेकिन, शनिवार को आए नतीजों में बीजेपी को कर्नाटक में करारी हार मिली है और सत्ता से बाहर होना पड़ा। इस राज्य में हार के साथ बीजेपी का दक्षिण का दरवाजा भी बंद हो गया है। चूंकि, तमिलनाडु में डीएमके गठबंधन की सरकार है और एमके स्टालिन सीएम हैं। आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की सरकार है और वाईएस जगनमोहन रेड्डी सीएम हैं। केरल में सीपीएम के नेतृत्व वाले वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (LDF) की सरकार है और पी। विजयन सीएम हैं। इसी तरह, तेलंगाना में बीआरएस की सरकार है और के। चंद्रशेखर मुख्यमंत्री हैं। 

उत्तर भारत और दक्षिण भारत में भाजपा और कांग्रेस की क्या स्थिति।।।

उत्तर भारत में हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और केंद्र शासित दिल्ली और जम्मू-कश्मीर आते हैं। मौजूदा दौर में बीजेपी के हाथों में हरियाणा, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार है। जबकि हिमाचल प्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस, पंजाब और केंद्र शासित दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है।

- उत्तर भारत के 6 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेश हैं। यहां हिमाचल प्रदेश में 4, हरियाणा में 10, उत्तर प्रदेश में 80, उत्तराखंड में 5, पंजाब में 13, राजस्थान में 25, दिल्ली में 7 और जम्मू कश्मीर में 6 लोकसभा सीटें हैं। 
- उत्तर भारत में बीजेपी के कुल 118 लोकसभा और 35 राज्यसभा सांसद हैं। इसके अलावा, 447 विधायक हैं। जबकि कांग्रेस के कुल 9 लोकसभा और 7 राज्यसभा सांसद हैं। इसके अलावा, 217 विधायक हैं। 
- दक्षिण की बात करें तो बीजेपी के कुल 29 लोकसभा और 7 राज्यसभा सांसद हैं। इसके अलावा, 70 विधायक हैं। दक्षिण में कांग्रेस के कुल 27 लोकसभा और 7 राज्यसभा सांसद हैं। इसके अलावा, 194 विधायक हैं। 

- दक्षिण के पांचों राज्यों में कुल 129 लोकसभा सीटें हैं। इनमें आंध्र प्रदेश में 25, केरल में 20, कर्नाटक में 28, तमिलनाडु में 39, तेलंगाना में 17 सीटें हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने इन सभी 129 सीटों में से कुल 29 पर ही जीत हासिल की थी। कर्नाटक में सबसे अच्छा प्रदर्शन रहा था। बाकी चारों राज्यों में निराशा हाथ लगी थी।

- आंध्र प्रदेश में 25 लोकसभा, 11 राज्यसभा और 175 विधानसभा सीटें हैं। यहां बीजेपी का सिर्फ एक राज्यसभा सांसद है। जबकि कांग्रेस का किसी सदन का सदस्य नहीं है। बाकी सीटें दूसरे दलों के पास हैं।
- केरल में 20 लोकसभा, 9 राज्यसभा और 140 विधानसभा सीटें हैं। यहां बीजेपी का एक भी सांसद-विधायक नहीं है। कांग्रेस के 21 विधायक, 14 लोकसभा सीटें और एक राज्यसभा सदस्य है। बाकी सीटें अन्य पार्टियों के पास हैं।
- तमिलनाडु में 39 लोकसभा, 18 राज्यसभा और 234 विधानसभा सीटें हैं। यहां बीजेपी के 4 विधायक हैं। जबकि कांग्रेस के 18 विधायक, 8 लोकसभा और एक राज्यसभा सदस्य है। 

- कर्नाटक में 28 लोकसभा, 12 राज्यसभा और 224 विधानसभा सीटें हैं। यहां बीजेपी के 25 सांसद, अब 65 विधायक और 6 राज्यसभा सदस्य हैं। जबकि कांग्रेस के 136 विधायक, एक लोकसभा और 5 राज्यसभा सदस्य हैं।
- तेलंगाना में 17 लोकसभा, 7 राज्यसभा और 119 विधानसभा सीटें हैं। यहां बीजेपी के 4 सांसद, एक विधायक है। कांग्रेस के 19, तीन लोकसभा सदस्य हैं। यहां दोनों पार्टियों के राज्यसभा सदस्य नहीं हैं।

किस पार्टी के कितने विधायक?

राज्य         बीजेपी      कांग्रेस
आंध्र प्रदेश     0           0
केरल            0         21
तमिलनाडु     4         18
कर्नाटक      65        136
तेलंगाना        1         19
 

2019 में किसकी कितनी लोकसभा सीटें

राज्य बीजेपी कांग्रेस
आंध्र प्रदेश 0 0
केरल 0 15
तमिलनाडु 0 8
कर्नाटक     25 1
तेलंगाना 4 3
 

किस राज्य में किसके राज्यसभा सदस्य

राज्य बीजेपी कांग्रेस
आंध्र प्रदेश 1 0
केरल 0 1
तमिलनाडु 0 1
कर्नाटक     6 5
तेलंगाना 0 0
 

उत्तर भारत में किस पार्टी की क्या स्थिति है?

किस पार्टी के कितने विधायक? 

राज्य बीजेपी कांग्रेस
हिमाचल प्रदेश 25 40
उत्तराखंड 47 19
हरियाणा 41 30
पंजाब   2 18
राजस्थान 70 108
उत्तर प्रदेश 255 2
दिल्ली 7 0
 

कहां-कहां बीजेपी की सरकार
उत्तर प्रदेश
मध्य प्रदेश
गुजरात
उत्तराखंड
मणिपुर
मेघालय

इन राज्यों बीजेपी गठबंधन

अरुणाचल प्रदेश- भाजपा-एनपीपी,
असम- भाजपा, एजीपी, यूपीपीएल, बीपीएफ
गोवा- बीजेपी, एमजीपी
हरियाणा- भाजपा, जेजेपी, एचएलपी
महाराष्ट्र- भाजपा, शिवसेना (एकनाथ शिंदे गुट)
त्रिपुरा- भाजपा, आईपीएफटी

इन राज्यों में बीजेपी सहयोगी दल

नगालैंड- एनडीपीपी, एनपीएफ, भाजपा
पुडुचेरी- एआईएनआरसी, भाजपा
सिक्किम- एसकेएम, भाजपा

कितने राज्यों में कांग्रेस सरकार?
छत्तीसगढ़ में कांग्रेस
राजस्थान में कांग्रेस
हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस

इन राज्यों में कांग्रेस सहयोगी दल
झारखंड में जेएमएम, कांग्रेस
बिहार में जेडीयू, आरजेडी, कांग्रेस
तमिलनाडु मेंडीएमके, कांग्रेस
कर्नाटक में अब कांग्रेस को जीत मिली।